यूपी पुलिस के भगोड़े IPS पाटीदार और सिपाही अरुण यादव पर 25-25 हजार का इनाम

Spread the love


महोबा। उत्तर प्रदेश के महोबा में कबरई के क्रशर कारोबारी इंद्रकांत त्रिपाठी की संदिग्ध मौत के मामले में फरार चल रहे IPS मणिलाल पाटीदार और सिपाही अरुण यादव पर SP अरुण कुमार श्रीवास्तव ने 25-25 हजार का इनाम घोषित किया है। वहीं, जल्द ही IPS पाटीदार पर एक और FIR दर्ज हो सकती है। दोनों की संपत्ति भी कुर्क करने की तैयारी चल रही है। IPS मणिलाल पाटीदार समेत तीन पुलिसकर्मियों को 15 नवंबर को लखनऊ की स्पेशल कोर्ट ने भगोड़ा घोषित किया था। बुधवार को पुलिस ने तत्कालीन कबरई थाने के प्रभारी रहे देवेंद्र शुक्ला को झांसी बॉर्डर से गिरफ्तार किया था।

यह है मामला
कबरई के मोहल्ला जवाहर नगर निवासी क्रशर कारोबारी इंद्रकांत त्रिपाठी 7 सितंबर को तत्कालीन SP मणिलाल पाटीदार पर रिश्वत मांगने का आरोप लगाकर सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल किया था। कारोबारी ने वीडियो व पत्र सीएम और डीजीपी को भी भेजा था। वीडियो में व्यापारी ने कबरई पत्थरमंडी ठप होने के चलते पैसे न देने की असमर्थता जताई थी। साथ ही एसओ पर भी गंभीर आरोप लगाए थे। उसने हत्या की आशंका भी जताई थी। इसी बीच अगली सुबह इंद्रकांत अपनी कार में घायल मिले। उनके गले पर गोली लगी थी। उन्हें इलाज के लिए कानपुर के रीजेंसी अस्पताल भेजा गया। लेकिन 13 सितंबर को मौत हो गई। मामले में 11 सितंबर को ही शासन के निर्देश पर पुलिस ने IPS मणिलाल पाटीदार, कबरई थाने के प्रभारी देवेंद्र शुक्ला, सिपाही अरुण यादव और दो व्यापारियों पर IPC की धारा 302 के तहत केस दर्ज किया। वहीं, योगी सरकार ने SIT का गठन किया, जिसमें आत्महत्या की पुष्टि हुई। इसके बाद IPC की धारा 306 (आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप) में मामला दर्ज किया गया।

हल्ला बोल को यूपी के सभी जिलों में संवाददाताओं की जरूरत है। ऐसे इच्छुक व्यक्ति जो निशुल्क रूप से हमसे जुड़ना चाहते हैं वो व्हाट्सएप नंबर 9451647342 पर हल्ला बोल टाइप कर संदेश भेज सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *